IAS SAUMYA PANDEY : संगम नगरी से अपने पहले प्रयास में ही देश में चौथी रैंक हासिल करने वाली युवा महिला आईएएस अधिकारी

0
141
IAS SAUMYA PANDEY

“होनहार बिरवान के होत चिकने पात”

IAS SAUMYA PANDEY SUCCESS STORY : अर्थात जो अपने जीवन में किसी भी क्षेत्र में होनहार हो, उसकी प्रसंशा चारो दिशाओ में होती है.

भारत में हर माता-पिता का सपना होता है की उनके बच्चे बड़े होकर एक बार देश की सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा यूपीएससी का हिस्सा बने और अगर बच्चे शुरू से ही होनहार हो तो इस बात की महत्ता और बढ़ जाती है. कुछ ऐसा ही हुआ आज की युवा महिला आईएएस अधिकारी – आईएएस सौम्या पांडेय (IAS SAUMYA PANDEY) के जीवन में.

सौम्या पांडेय का जन्म भारत की पवित्र कुम्भ नगरी – इलाहबाद, उतर प्रदेश में 12.01.1994 को हुआ था, उनका परिवार आर्थिक रूप से संपन्न था जहा उनके पिता – रवि पांडेय इलाहबाद में ही अपना स्वयं का कंप्यूटर कोचिंग का बिज़नेस करते है वही सौम्या की माता – डॉ साधना पांडेय गायनोकोलॉजिस्ट है.

यह भी पढ़े : IAS RAMESH GHOLAP : जानिए कैसे पंक्चर वाले का पोलियोग्रसित (विकलांग) बेटा, घर-घर माँ के साथ चूड़ियाँ बेच बना गाँव का पहला आईएएस

IAS SAUMYA PANDEY

IAS SAUMYA PANDEY पढाई में रही गोल्डमेडलिस्ट – 

सौम्या पांडेय बचपन से ही पढाई में होशियार थी, इसी वजह से अपनी दसवीं बोर्ड के एग्जाम में इलाहाबाद जिले में टॉपर बनी. वही सौम्या पांडेय ने अपनी 12 बोर्ड एग्जाम को भी 97% मार्क्स से वर्ष 2012 में पास आउट किया.

सौम्या पांडेय की स्कूली शिक्षा आर्मी स्कूल, इलाहाबाद से पूर्ण हुई थी, वे बताती है की घर में शुरू से ही पढाई का माहौल था जहा उनके माता-पिता दोनों ही शिक्षा के प्रति सजग थे, साथ ही वे सौम्या को हमेशा मेहनत और लगन से अच्छे मार्क्स लाने के लिए प्रेरित करते रहते थे.

सौम्या पांडेय ने स्कूल की शिक्षा पूरी करने के बाद अपनी ग्रैजुएशन इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग में वर्ष 2015 में “मोती लाल नेहरू नेशनल इन्शीटूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी”, (MNNIT) इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से पूरी की.

सौम्या पांडेय यहाँ भी अच्छे मार्क्स लाते हुए गोल्डमेडलिस्ट भी बनी, इसी दौरान उनका संपर्क कुछ सिविल सर्विसेज की तैयारी करने वाली कैंडिडेट्स से हुआ जहा उन्हें इस परीक्षा की जानकारी मिली.

यह भी पढ़े : IFS AISHWARYA SHEORAN – ग्लैमर जगत की चकाचौंध से प्रशासनिक अधिकारी तक का सफर

IAS SAUMYA PANDEY

IAS SAUMYA PANDEY की यूपीएससी की तैयारी – 

सौम्या ने अपने घर पर माता-पिता को अपने सिविल सर्विसेज एग्जाम देने की बात कही तब उनके माता-पिता ने सौम्या को उनके उज्जवल भविष्य की अग्रिम शुभकामनाए देते हुए अच्छे तरीके से मन लगाकर तयारी करने के लिए प्रेरित किया.

सौम्या पांडेय ने अपनी ग्रैजुएशन कम्पलीट करने के तुरंत बाद, अगले ही वर्ष 2016 में एग्जाम से दो माह पूर्व ही मॉक टेस्ट्स की प्रैक्टिस करने के साथ में पुराने पेपर सॉल्व करते हुए अपने सीनियर्स की गाइडेंस के साथ UPSC की परीक्षा को अपने प्रथम प्रयास में ही देश में चौथी रैंक हासिल करते हुए पास किया.

सौम्या पांडेय की इस सफलता से उन्होंने माता-पिता का मान तो बढ़ाया ही वही अपने जिले का भी गौरवान्वित किया, सौम्या की इस सफलता के सम्मान में इलाहाबाद में एक समारोह रखा गया था.

यह भी पढ़े : IAS SMITA SABHARWAL : CM OFFICE में APPOINT होने वाली प्रथम महिला आईएएस अधिकारी

IAS SAUMYA PANDEY

IAS SAUMYA PANDEY की पोस्टिंग – 

  • Asst.Magistrate – Siddarth Nagar – From 27/04/2018 to 24/09/2019
  • Joint Magistrate – Ghaziabad – Joining date – 24/09/2019
  • वर्तमान में वे गाज़ियाबाद के उपखण्ड मोदीनगर में एसडीएम पर तैनात है और Covid-19 की प्रमुख प्रभारी है.

सौम्या ने अपना जीवन साथी नितिन ओझा को चुना जो स्वयं भी एक आईएएस अधिकारी है, अभी हाल ही में सौम्या ने एक पुत्री को जन्म दिया है और मात्र 14 दिवस के मातृत्व अवकाश के बाद ही उन्होंने अपने कर्तव्य और देश सेवा को सबसे ऊपर रखते हुए अपना कार्यभार ग्रहण कर लिया.

सौम्या पांडेय अपनी पदभार के प्रति सम्पूर्ण ईमानदार और कर्तव्यनिष्ट है साथ ही फील्ड में रहकर काम करना उन्हें बेहद पसंद है.

ओर एक बात ओर आप इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों को शेयर करे ताकि लोग इससे प्रेरणा ले सके.

तो दोस्तों फिर मिलते है एक और ऐसे ही किसी प्रेणादायक शख्शियत की कहानी के साथ…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here