IAS APARAJITA SHARMA : UPSC की तैयारी के लिए प्राइवेट जॉब छोड़कर की तैयार, प्राप्त की 40वीं रैंक

0
114
IAS APARAJITA SHARMA

“जब आपके सपने को पाने की ललक आपका जुनून बन जाए तो समझ लो की आपको आपका लक्ष्य अवश्य ही प्राप्त होगा”

IAS APARAJITA SHARMA SUCCESS STORY : बनारस की गलियों मे यूं तो कई बच्चे घूमते ओर खेलते रहते है किन्तु इन्ही मे से एक बच्ची के मन मे तब से यह सपना घर कर रखा था की उसे बड़ा होकर एक दिन बड़ा ऑफिसर बनना है.


दोस्तों आज हम बात कर रहे है बनारस की रहने वाली आईएएस अपराजिता शर्मा (IAS APARAJITA SHARMA) की जिसके मन मे अपने नाना के मात्र इतना कह देने मात्र से की ‘मेरी बिटिया बड़ी होकर एक दिन बड़ी ऑफिसर बनेगी’ ऑफिसर बनने का सपना घर कर गया ओर एक छोटी सी बच्ची जो की कुछ नहीं समझती थी, उसने अपने नाना के देखे हुए सपने को पूरा करने का मन बना लिया.

यह भी पढे : IAS TINA DABI : देश की प्रथम SC महिला IAS, जिसने हासिल की AIR – 1

IAS APARAJITA SHARMA का जन्म ओर बचपन

अपराजिता शर्मा का जन्म एक आईआरएस ऑफिसर के घर मे हुआ था ओर उनकी माता एक प्रोफ़ेसर हैं. ओर यही एक कारण था की उनके नाना ने यूं ही बातों-बातों मे अपराजिता से कह दिया की वह बड़ी होकर एक बड़ी ऑफिसर बनेगी.


APARAJITA SHARMA EDUCATION

अपराजिता ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा भी बनारस से ही प्राप्त की है. स्कूल की पढ़ाई खत्म होने के बाद अपराजिता ने रांची के बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से केमिकल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन किया. अपना ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद उन्होंने एक अच्छी कंपनी में नौकरी भी ज्वॉइन कर ली. ओर इस दौरान उन्हे जबलपुर और मुंबई जैसे बड़े शहरों मे रहने का अवसर भी मिला.


यह भी पढे : IPS SIMALA PRASAD – भारत की वह खूबसूरत महिला IPS जिससे खौफ खाते है बदमाश

अपराजिता शर्मा अपनी ब्रांच मे एकमात्र लड़की थी, ओर इस दौरान उनके जीवन मे कुछ ऐसे घटनाक्रम घटित हुए जिसने उन्हे UPSC की तैयारी करने के लिए प्रेरित किया.

APARAJITA SHARMA ने अचानक से नौकरी छोड़ दी


अपराजिता शर्मा को प्राइवेट सेक्टर मे एक अच्छी नौकरी तो मिल गई थी किन्तु वह अपनी उस नौकरी से संतुष्ट नहीं थी, उनके मन मे अपने नाना की ही बात घूमती रहती थी की ‘अपराजिता बड़ी होकर एक बड़ी ऑफिसर बनेगी’ ओर एक दिन अचानक से उन्होंने अपनी नौकरी से इस्तीफा दे दिया ओर इस बारे मे घर मे भी किसी को कुछ नहीं बताया.

यह भी पढे : ANNA RAJAM MALHOTRA – देश की पहली महिला आईएएस ऑफिसर | संघर्ष से सफलता की कहानी

अपराजिता शर्मा UPSC की तैयारी मे जुट गई

नौकरी छोड़ने के तुरंत बाद ही अपराजिता शर्मा यूपीएससी (सिविल सर्विस) की तैयारी मे जुट गई ओर इसे पास करने के लिए जी-जान लगा दी किन्तु यूपीएससी की परीक्षा भी कोई हंसी-खेल नहीं जिसे आसानी से पास किया जा सके.


अपराजिता शर्मा को भी यह बात तब समझ मे आई जब वह अपने पहले दोनों प्रयासों मे असफल रही, ओर एक दिन अपराजिता शर्मा ने शांत मन से सोचा की उससे कहा पर भूल हो रही है ओर उसके असफलता की क्या वजह है.

अपराजिता शर्मा ने अपने मन मे सोच लिया की इस बार आर या पार की तैयारी होगी, ओर एक बार फिर से पूरे जोश ओर जुनून के साथ अपराजिता ने तैयारी शुरू कर दी ओर आखिर मे परिणाम भी तैयारी के अनुरूप ही आया.

इस बार अपराजिता शर्मा ने न सिर्फ यूपीएससी परीक्षा को पास किया बल्कि (2017) ऑल इंडिया 40वीं रेंक हासिल की ओर उनका चयन आईएएस के लिए हुआ. 


यह भी पढे : IAS NAMRATA JAIN – बचपन मे आठवी कक्षा मे स्कूल मे आई महिला अफसर को सुन कर लिया IAS बनने का निर्णय

अपराजिता शर्मा की UPSC PREPARATION STRATEGY


अपराजिता शर्मा ने अपनी UPSC PREPARATION के दौरान कान्सेप्ट क्लीयर करने के लिए NCERT BOOKS का सहारा लिया, ओर PRELIMS ओर MAINS EXAMS की तैयारी अलग-अलग करने की जगह एक साथ की, ओर बेसिक पर ज्यादा ध्यान दिया.

अपराजिता शर्मा कहती है की उन्होंने तैयारी के दौरान हर दिन के अनुसार टारगेट सेट कर लिए थे ओर उनके सेट किए हुए टारगेट को हर हाल मे पूरा करने का नियम बना लिया था, साथ ही साथ वे हर दिन न्यूज पेपर जरूर पढ़ती थी, इससे उनकी CURRENT AFFAIRS की तैयारी अच्छे से हो गई.


यह भी पढे : IAS SAUMYA GURURANI – पहले बनी आईपीएस ओर चौथे प्रयास मे देश मे 30 वी रैंक प्राप्त करते हुए आईएएस बनने का सपना पूरा किया

अपराजिता शर्मा की सलाह

अपराजिता शर्मा का कहना है की आपको तीनों परीक्षाओ को ध्यान मे रखते हुए अपनी स्ट्रेटजी बनानी होगी. इसके लिए आप सबसे पहले सिलेबस देखें और अपनी रुचि के अनुसार किताबें सलेक्ट कर लें. अपराजिता के अनुसार आप तैयारी के लिए मल्टीपल सोर्सेस न रखे.


उनके अनुसार आप अपनी किताबें सीमित रखें पर उन्हें बार-बार रिवाइज़ करें, साथ ही स्ट्रेटजी बनाते समय भी ध्यान रखे कि आप दूसरों की नकल करने की बजाय अपनी खुद की स्ट्रेटजी बनाएं क्योंकि सबकी विकनेस और स्ट्रेन्थ अलग-अलग होती है.

रोज के रोज टारगेट सेट करें और उन्हें पूरा करें. अपराजिता एनसीईआरटी (NCERT) की किताबों को बेसिक्स के लिए बहुत महत्व देती हैं. उनके अनुसार क्लास 6 से 12 तक की एनसीईआरटी की अधिकतम विषयों की किताबें पढे खासकर ज्योग्राफी की. इसके साथ आप न्यूज पेपर की खबरों पर भी फोकस करे.


यह भी पढे : IAS PRIYANKA DIWAN – कॉलेज में आये कलेक्टर के रुतबे से प्रेरित हो बनी अपने पहले प्रयास में आईएएस अधिकारी

INTERVIEW के लिए सलाह

अपराजिता का कहना है की आप इंटरव्यू के दौरान झूठ न बोलें. क्योंकि इंटरव्यू लेने के लिए वहां बैठे हुए लोग आपसे कई ज्यादा समझदार हैं ओर अगर आप झूठ बोलते है तो वे झट से आपका झूठ पकड़ लेंगे. अगर आपको कोई उत्तर नहीं आता तो माफी मांग लें.


अपराजिता के अनुसार आप बहुत ज्यादा मॉक टेस्ट न दे, क्योंकि इससे आप कंफ्यूज हो जाओगे और रटे-रटाये उत्तर देने लगोगे. इससे बेहतर होगा की जो आपके दिल में है, वह बोलें क्योंकि इंटरव्यू के दौरान आपके ज्ञान की नहीं ईमानदारी की परीक्षा हो रही है.

ओर एक बात ओर आप इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों को शेयर करे ताकि लोग इससे प्रेरणा ले सके.

तो दोस्तों फिर मिलते है एक और ऐसे ही किसी प्रेणादायक शख्शियत की कहानी के साथ…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here