IAS ANKITA AGARWAL : कैसे बिहार की इस बेटी ने UPSC परीक्षा में दूसरा स्थान प्राप्त कर IAS OFFICER बनने के अपने सपने को पूरा किया

0
150
IAS ANKITA AGARWAL

“असफलता पर अगर मेहनत का रंग लग जाए तो, वो सफलता में बदल जायेगी.”

IAS ANKITA AGARWAL SUCCESS STORY : सिविल सेवा परीक्षा जो की संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा संचालित की जाती है, इसे भारत की सबसे कठिन परीक्षा माना जाता है, और इस परीक्षा को पास करने के बाद कैंडिडेट IAS अधिकारी बनता हैं. Civil Services Examination 2021 का final result यूपीएससी (UPSC) ने जारी कर दिया है, यूपीएससी द्वारा जारी किए गए रिज़ल्ट में श्रुति शर्मा ने ऑल इंडिया प्रथम स्थान प्राप्त किया है और दूसरे नम्बर पर हैं अंकिता अग्रवाल (IAS ANKITA AGARWAL).

IAS Ankita यूपीएससी सिविल सेवा द्वारा आयोजित परीक्षा में दूसरा स्थान प्राप्त कर बहुत खुश हैं और इसी के साथ उन्होंने स्वयं के साथ-साथ अपने परिवार और समाज को गौरवान्वित किया है, आज आप UPSC Topper Ankita Agarwal Biography & Success Story के द्वारा जानेंगे कि आईएएस अंकिता अग्रवाल कौन हैं? और इन्होंने किस तरह से सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी की जिससे उन्होंने Civil Services Exam में All India Rank 2 के साथ सफलता प्राप्त की हैं.

अंकिता सिविल सेवा परीक्षा (UPSC) 2021 में दूसरा स्थान हासिल करने वाली कैंडिडेट हैं और उनकी ख़्वाहिश है कि उनका चयन भारतीय प्रशासनिक सेवा में हो और वह एक IAS Officer बनकर अपने देश की सेवा कर सके ओर समाज के काम आ सके.

अपने परीक्षा फ़ॉर्म में अंकिता ने service preference में पहले स्थान पर IAS सर्विस को रखा है और दूसरे नम्बर पर IPS, और इसी के साथ उन्होंने अपने cadre preference में पश्चिम बंगाल को सबसे पहले स्थान पर रखा है. उन्हें अपने अच्छे रिज़ल्ट के बाद यह विश्वास है कि वो एक आईएएस अधिकारी बनकर देश की सेवा अच्छे-से करेंगी.

यह भी पढ़े : IAS ANU KUMARI : बैंक की नौकरी छोड़कर अपने बच्चे से 2 साल दूर रहकर कैसे बनी IAS OFFICER

ias ankita agarwal

IAS TOPPER ANKITA AGARWAL का परिचय

अंकिता मूल रूप से बिहार की रहने वाली है. अंकिता अग्रवाल के पिताजी एक businessman हैं और इनके जन्म के बाद ही वे बिहार से पश्चिम बंगाल आ गए थे, वर्तमान समय में इनका पूरा परिवार पश्चिमी बंगाल में ही रहता है.

IAS ANKITA AGARWAL की शिक्षा

अंकिता अग्रवाल ने St. Stephan’s College से वर्ष 2017 में Economics Honours में अपनी

ग्रैजूएशन कम्प्लीट की है. अपनी ग्रैजूएशन के बाद इन्होंने एक वर्ष तक Dalberg नाम के एक प्रसिद्ध consulting firm में नौकरी भी की किंतु नौकरी करने में उनका मन नही लगा, और उसके बाद उन्होंने अपनी नौकरी छोड दी ओर सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी में जुट गई.

यूपीएससी टॉपर अंकिता जब कॉलेज में पढ़ाई कर रही थीं तो उस समय उन्हें यह आइडीया नहीं था कि उन्हें अपने जीवन में आगे चलकर करना क्या है? पढ़ाई करने के दौरान शुरुआत में उन्हें लगा कि उनके लिए corporate sector में नौकरी करना ही सही रहेगा, लेकिन जब वे कॉलेज के अंतिम वर्ष में थी तो उनका मन सिविल सेवा की ओर काफ़ी आकर्षित होने लगा था.

लेकिन कॉलेज ख़त्म होते के बाद इन्होंने एक साल तक कन्सल्टिंग के क्षेत्र में ही काम किया और किंतु इस नौकरी में उनका मन नही लगा ओर उन्होंने काफ़ी सोच-विचार करने के बाद अपनी नौकरी छोड़कर यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करने का निर्णय लिया ओर उसके बाद UPSC Preparation की शुरुआत की और आज 2022 में अंकिता अग्रवाल All India Rank 2 के साथ UPSC Topper बनने के साथ अपने सिविल सरवेंट बनने के सपने को पूरा किया.

ओर एक बात ओर आप इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों को शेयर करे ताकि लोग इससे प्रेरणा ले सके.

तो दोस्तों फिर मिलते है एक और ऐसे ही किसी प्रेणादायक शख्शियत की कहानी के साथ…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here