यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा के लिए हर साल 700 से 900 पदों के लिए दस लाख से अधिक उम्मीदवार आवेदन करते है

ऐसी स्थिति में सिविल सेवा के लिए अधिक प्रतिस्पर्धा होना सामान्य है. लेकिन इस परीक्षा से जुड़े कुछ मिथक भी है जैसे इसका सेलेबस बहुत बड़ा है, यूपीएससी एक्जाम में कही से भी कुछ भी पूछा जा सकता है

16 से 18 घंटे पढ़ाई किए बिना इस परीक्षा को पास नही किया जा सकता है, इस परीक्षा में होने के लिए अंग्रेज़ी आनी जरुरी है.

हर साल इस परीक्षा में टॉप करने वले कैंडिडेट इससे जुड़े हुए मिथकों को ख़ारिज करते है

असल में यूपीएससी सीएसई दूसरी परीक्षा से सिर्फ़ चयन प्रक्रिया एवं परीक्षा मोडयूल की वजह से ही अलग है. इस परीक्षा की तैयारी के लिए सही तरीक़े से तैयारी करना जरुरी है

इस परीक्षा में सिर्फ़ पढ़ने मात्र से चयन नही होता बल्कि आपने क्या पढ़ा ओर उसे किस तरीक़े से पढ़ा यह बात अधिक महत्वपूर्ण है

इस परीक्षा की तैयारी की शुरुआत आप 6 से 12 तक की एनसीईआरटी की किताबों से करे क्योंकि इनसे आपके बेसिक्स क्लीर होते है

यूपीएससी परीक्षा को पास करने के लिए आप तैयारी से पहले एक बार सेलेबस को अच्छे से ज़रूर देख ले, इससे आपको यह पता चलेगा की आपको क्या पढ़ना है ओर क्या नही पढ़ना है

यूपीएससी पास करने वाले कैंडिडेट्स में से अधिकांश कैंडिडेट सेल्फ़ स्टडी के द्वारा इस परीक्षा को क्रेक करते है इसलिए आप भी सेल्फ़ स्टडी से इस परीक्षा को आसनी से पास कर सकते है

यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करने के दौरान आप नेगेटिव सोच वाले लोगों से सदैव दूरी बनाकर रखे क्योंकि यह आपकी सोच को प्रभावित करते है

UPSC की परीक्षा के दौरान आप अपने उत्तर में महत्वपूर्ण बिंदुओ का उल्लेख अवश्य करे